आज इस आर्टिकल में हम Mohan Rakesh ka Jivan Parichay, Mohan Rakesh in Hindi, Mohan Rakesh ka Sahityik Parichay, Mohan Rakesh ki Rachna, Mohan Rakesh ka janm kab hua tha, मोहन राकेश का जीवन परिचय & More के बारे में पढ़ेंगे।

मोहन राकेश कौन थे?

नाममोहन राकेश
जन्म1925 ईस्वी
जन्म स्थानअमृतसर, पंजाब
पिता का नामकरमचंद गुगलानी
शिक्षालाहौर के ओरिएंटल कॉलेज से शास्त्री एवं बाद में हिंदी व संस्कृत एम. ए. की परीक्षा उत्तीर्ण की
क्रतियाआषाढ़ का एक दिन, आधे अधूरे (नाटक), अंधेरे बंद कमरे, अंतराल (उपन्यास), अंडे के छिलके (एकांकी) आखिरी चट्टान तक (यात्रा वृतांत)
उपलब्धि‘सारिका’ मासिक पत्रिका का संपादन व संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया
साहित्य में स्थानमोहन राकेश बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे, जिहोने हिंदी साहित्य की अनेक विधाओं में नवीनता प्रदान की
मृत्यु1972 ईस्वी

Mohan Rakesh का जन्म 8 जनवरी 1925 को अमृतसर में हुआ था। जिन्होंने आधुनिक नाट्य सहित को एक नई दिशा दी थी। इनके पिता श्री करमचंद गुगलानी साहित्य व संगीत प्रेमी थे।

मोहन राकेश की शिक्षा

मोहन राकेश ने लाहौर के ओरिएंटल कॉलेज से शास्त्री की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद संस्कृत एवं हिंदी दोनों विषयों में स्नातकोत्तर (एम.ए) की उपाधि प्राप्त की। और मुंबई, शिमला, जालंधर और दिल्ली में अध्यापन कार्य करने के बाद मोहन राकेश ने महसूस किया कि अध्यापन वृत्ति इन की प्रवृत्ति के अनुकूल नहीं है।

अतः 1962-63 ईसवी में मोहन राकेश ने ‘सारिका‘ (हिंदी की कथा पत्रिका) के संपादन का दायित्व संभाला, लेकिन शीघ्र ही इसे भी छोड़कर वे स्वतंत्र लेखन की ओर पूरी तरह रम गए। अपनी नाट्य रचनाओं के लिए इन्हें संगीत नाटक अकादमी द्वारा 1968 ईस्वी में सम्मानित किया गया।

‘नाटक की भाषा’ पर कार्य करने के लिए इन्हें नेहरू फेलोशिप भी मिली, लेकिन इसी दौरान 3 दिसंबर, 1972 में इनका निधन हो गया।

इसे भी पढ़े : Harishankar Parsai Ka Jivan Parichay, Sahityik Parichay, Rachna & more

साहित्यिक सेवाएं

मोहन राकेश आधुनिक नाट्य साहित्य को नई दिशा देने वाले प्रतिभा संपन्न साहित्यकार के रूप में विख्यात है। इन्होंने हिंदी गद्य साहित्य को आधुनिक परिवेश के साथ समृद्ध करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। नाटक, उपन्यास, कहानी, निबंध, यात्रा व्रत और आत्मकथा के क्षेत्र में इन्होंने हिंदी साहित्य को कई अमूल कृतियां प्रदान की है।

कृतियां

नाटकआषाढ़ का एक दिन, लहरों के राजहंस, आधे अधूरे
एकांकीअंडे के छिलके, अन्य एकांकी बीज नाटक, दूध के दांत
अनुवादमृच्छकटिकम् और शकुंतलम का हिंदी नाट्य रूपांतर
उपन्यासअंतराल, अंधेरे बंद कमरे, न आने वाला कल, नीली रोशनी की बाहे
कहानी संग्रहक्वार्टर, पहचान, वारिस
निबंध संग्रहपरिवेश, बकलमखुद
यात्रा विवरणआखिरी चट्टान तक
जीवनी संकलनसमय सारथी
डायरी साहित्यमोहन राकेश की डायरी
संपादन‘सारिका’ (मासिक पत्रिका)

About FAQ

Q. Which drama has been written by Mohan Rakesh?

Ans. Ashadh Ka Ek Din, Lehro ke Rajhansh, Adhe Adhure.

Q. Where was Mohan Rakesh born?

Ans. Mohan Rakesh was born on 8 January 1925 in Amritsar.

निष्कर्ष

हमें उम्मीद है. आप सभी विजिटर को Mohan Rakesh के बारे में पूरी जानकारी मिल ही गई होगी. यदि आप लोगो को कोई डाउट है. तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है. यदि आप लोगो को यह लेख अच्छा लगा है. तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

Note : यह जानकारी विभिन्न वेबसाईट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गहराई से रिसर्च करके एकत्रित की गई है। यदि इस जानकारी में किसी भी प्रकार की त्रुटि पाई जाती है. तो इसके लिए bioknowledge.net की कोई भी जिम्मेदारी नहीं है.

VISIT WEBSITE
5/5 - (1 vote)

Earth Edition

Hello friends, This is Earth Edition Team. And we are professional content writers. We hope you guys liked this article. We have tried our best to give you complete information. If you still have any problems,...

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *